एक सौ आठ कड़ियों में पहली कड़ी…

बृहस्पत

बिधाता, जगत गुरु एवं ब्रह्मा जी महाराज
(श्री ब्रह्मा जी महाराज दोनों जहां और त्रैलोकी का मालिक)
शत्रु ~ बुध एवं शुक्र
मित्र ~ सूर्य, मंगल एवं चंद्र
सम ~ शनि, राहु एवं केतु
मश्नुई ~ सूर्य एवं शुक्र

☸ख़ाना नम्बर ~ १☸

नाम वर राजा, राजगुरु एवं फ़क़ीर बाकमाल मगर निर्धन
(पीले रंग, शेर-ए-नर, चलता साधु, कीमियागर एवं पेशानी)

📙फलादेश📙

१~ पारिवारिक सदस्य शिक्षित होंगे।
२~ साधारणतय: आर्थिक स्थिति अच्छी होगी।
३~ विवाह के बाद भाग्योदय होगा।
४~ यदि खाना नम्बर ५ में शनि हुआ तो शिक्षा अधूरी छूट जाएगी साथ ही शत्रुओं को दबाने वाला होगा।
५~ राहु खाना नम्बर ८ या ११ में हो तो पिता की दमा या दिल के दौरे से मृत्यु हो सकती है।
६~ जातक २७ वर्ष की अल्पायु में ही अपने पिता से अलग हो जाता है।
७~ कारखाना मालिक, सरकारी नौकर, बुद्धिमान, विद्वान, कर्मकाण्डी, राजनीतिज्ञ, पुरोहित इत्यादि हो सकता है।
८~ यदि खाना नम्बर ७ खाली हो, तो २२ वर्ष की आयु के पश्चात् ही भाग्योदय होगा।
९~ यदि खाना नम्बर ७ खाली नहीं है, तो जातक जन्म से ही भाग्यशाली होगा।
………

💯उपाओ💯

१~ भूमि में मंगल की वस्तुएं (सौंफ, देशी खाण्ड, शहद, मसूर की दाल इत्यादि) दबाएं, यदि खाना नम्बर ७ खाली है।
२~ बुध (घड़ा या सीता फल पीला पका हुआ या पन्ना या फिटकरी) शुक्र (दही या कपास या घी या फूल) शनि (चना या उड़द या बादाम या नारियल) धर्म-स्थान (मन्दिर या गुरुद्वारा या चर्च या मस्जिद) में दान करें अथवा बहते हुए जल में प्रवाहित करें।
३~ अपने घर की दीवारों पर पीला रंग करें।
४~ नाक में चांदी ९६ घण्टे डालकर बुध के दोष को दूर करें।
५~ नाभि पर केसर लगाएं
६~ वृद्ध, पीपल, पिता, बाबा, पुरोहित, पंडित इत्यादि का सम्मान करें।
७~ मिट्टी की कुज्झी में चीनी भरकर कच्ची जमीन में दबाएं।
८~ नए कार्य पत्नी की सलाह से करें।
९~ मंदिर बनवाने हेतु आर्थिक सहायता करें या सीमेन्ट इत्यादि दान करें।
………

📘नोट📘
अधिक फलादेश एवं उपाओ हेतु सम्पर्क करें, सशुल्क सेवा प्रदान की जाएगी।

📚संकलनकर्त्ता📚

सूर्यांक कुमार गुप्ता
ज्योतिष मर्मज्ञ
वैदिक एवं लाल किताब
उपाध्यक्ष – ज्योतिष परिवार™

नोट~
श्रावण मास में लाल किताब के अन्तर्गत १२ खाने एवं ९ ग्रहों का क्रमानुसार विश्लेषण का संकल्प लिया है, जिसे अगले वर्ष श्रावण मास तक पूर्ण करना है। अर्थात् प्रत्येक ३-४ दिनों के नियमित अन्तरालों पर पोस्ट ज्योतिष शास्त्र में रुचि रखने वाले व्यक्तियों हेतु प्रदान की जाएगी।
धन्यवाद!
ॐ.ॐ..ॐ…ॐ….ॐ…..