Monthly Archives: November 2018

एक सौ आठ कड़ियों में चौथी कड़ी

बृहस्पत

बिधाता, जगत गुरु एवं ब्रह्मा जी महाराज
श्री ब्रह्मा जी महाराज दोनों जहां और त्रैलोकी का मालिक
मित्र ~ सूर्य, चंद्र एवं मंगल
शत्रु ~ बुध एवं शुक्र
सम ~ शनि, राहु एवं केतु
मशनुई ~ सूर्य एवं शुक्र

🌺ख़ाना नम्बर ४🌺

उच्च फल

राजा इन्द्र और विक्रमादित्य के साया का मालिक, अपनी ही बेड़ी डोबने वाला मल्लाह, चंद्र की राजधानी का मिलकी बरुए गुरु, बाग-बागीचे

🥀वस्तुएं🥀

बारिश, सोना

🌸संक्षिप्त फल कथन🌸

१~ आयु के साथ रुपया-पैसा धन और सुख के सभी साधन बढेंगे।
२~ स्त्री, संतान तथा माता-पिता का सुख सहयोग उत्तम रहेगा।
३~ संसार को तारने वाला परन्तु अपनी बेड़ी डुबाने वाला हो।
४~ लॉटरी या दबा हुआ धन-दौलत, लावारिस जायदाद भी जातक को मिलने की संभावना होगी।
५~ मुसीबत आने पर भगवान् की ओर से ऐसी मदद मिल जाएगी जो वह सोच भी न सका होगा।
६~ यदि बृहस्पति खाना नम्बर ४ तथा बुध खाना नम्बर १० में ऐसा बुध जब कभी वर्षफल नम्बर ४ में आए बर्बादी का बहाना कर देगा।
७~ २३, ३४, ४८, ५५ वर्ष माता के लिए खराब।
८~ यदि बृहस्पति खाना नम्बर ४, शनि खाना नम्बर १०, चंद्रमा खाना नम्बर १ हर प्रकार की सवारी का सुख।
९~ जातक किश्ती या समुद्री जहाज पर काम करता हो तो बृहस्पति की बुरी हवा जोरों पर होगी।

🌾नोट🌾

विस्तृत फल कथन हेतु सशुल्क (₹ ७००) सम्पर्क करें।

🌷संक्षिप्त उपाओ🌷

१~ किसी को भी अपना नग्न शरीर न दिखाएं।
२~ शराब, मांस, अण्डा आदि शनि की बुरी वस्तुओं से दूर रहें।
३~ घर से मन्दिर हटाएं।
४~ अपने माता-पिता, बड़ों की, ब्राह्मणों और पुरोहितों आदि का नम्रता पूर्वक सम्मान करे तथा अपनी शक्ति के अनुसार उनकी सेवा करें।
५~ पीपल की सेवा करें।
६~ जब भी मौका लगे सांप को दूध पिलाएं।
७~ बुध खराब हो तो जमीन में बंसरी चीनी भर कर दबाएं।
८~ गंगा जल घर में न रखें।
९~ लंगर, धर्म स्थान का प्रसाद न लेना।

🍄नोट🍄

विस्तृत उपाओ हेतु सशुल्क (₹ ७००) सम्पर्क करें।

💐लेखक एवं संकलनकर्त्ता💐

सूर्यांक कुमार गुप्ता
ज्योतिष मर्मज्ञ
वैदिक एवं लाल किताब
उपाध्यक्ष – ज्योतिष परिवार™
व्हाट्सऐप ~ ८८४०४००४१७

🍁संकल्प🍁

श्रावण २०७५ में लाल किताब के अन्तर्गत १२ खानों एवं ९ ग्रहों (१२*९=१०८) का क्रमानुसार संक्षिप्त वर्णन (फलकथन एवं उपाओ) करने का संकल्प मेरे स्वयं के द्वारा लिया गया है, जिसे श्रावण २०७६ तक पूर्ण करने का लक्ष्य है, अर्थात् प्रत्येक ३-४ दिनों के अन्तराल पर लेख जातकों, विद्यार्थियों एवं ज्योतिषियों हेतु प्रस्तुत किए जाएंगे।

🎄धन्यवाद🎄

“कर भला – होगा भला – आख़ीर भले का भला”

एक सौ आठ कड़ियों में पांचवीं कड़ी

बृहस्पत

बिधाता, जगत गुरु एवं ब्रह्मा जी महाराज
श्री ब्रह्मा जी महाराज दोनों जहां और त्रैलोकी का मालिक
मित्र ~ सूर्य, चंद्र एवं मंगल
शत्रु ~ शुक्र एवं बुध
सम ~ शनि, राहु एवं केतु
मशनुई ~ सूर्य एवं शुक्र
ख़ाना नम्बर ५
पक्का घर
ग्रह फल
औलाद के जन्म दिन से बारौनक़, बच्चा पेट से ही मुर्दा पैदा हो, इन्सानी ख़सलत का मालिक, बड़ी इज्ज़त व आबरू का मालिक और ब्रह्मज्ञानी, मगर आग का बांस, गुस्सा वाला
वस्तुएं
नाक और केसर
🌾संक्षिप्त फल कथन🌾
१~ जातक अधिक गुस्से वाला होता है।
२~ जातक को अपनी किस्मत का शुभ फल अपनी सन्तान के द्वारा मिलेगा।
३~ ईमानदारी का काम और व्यापार से बढता होगा।
४~ जवानी में सन्तान की जरूरत समझे और संतान की इज्जत करने से जातक का बुढापा अच्छा व्यतीत होगा।
५~ बृहस्पतिवार के दिन पैदा हुए लड़के के जन्म के बाद जातक और उसका पुत्र दोनों किस्मत के मैदान में दो नर शेरों का जोड़ा होगा।
६~ पुत्र के जन्म से पहले जातक की किस्मत सोई हुई समझी जाएगी।
७~ यदि खाना नम्बर २, ९ एवं ११ में शुक्र, बुध न हो तो धर्म के नाम पर खाना या दान लेना जातक को नि:संतान होना और बिना कफन मरने की संभावना।
८~ सूर्य, चंद्र तथा मंगल खाना नम्बर ९ में हो तो जातक की दौलत बढेगी।
९~ राहु अशुभ हो, तो भिक्षा के लिए दौड़ता हुआ साधु होगा, बुरी हवा के झोंके, हर ओर तंगी और बुरी हालत होगी।
🌼संक्षिप्त उपाओ🌼
१~ धर्म के नाम पर मांगने वाला दरवेश बनने की कोशिश न करे।
२~ साधु की सेवा, धर्मशाला, धर्मस्थान में सफाई करें।
३~ यदि २, ५, ९, ११, १२ में बुध, शुक्र, राहु हो, तो उनका उपाय करें।
४~ गणेश पूजा करें।
५~ कुत्ता पाले।
६~ ईमानदार बनें।
७~ नशा न करे।
८~ लावारिश लाश को कफन दान करे।
९~ परोपकार के कार्य करना लाभकारी रहेगा।
🙏सेवाएं🙏
१~ लाल किताब कुण्डली निर्माण।
२~ कुण्डली अनुसार संक्षिप्त फलकथन एवं उपाओ।
३~ लाल किताब व्हाट्सऐप क्लासेज।
📖सम्पर्क सूत्र📖
सूर्यांक कुमार गुप्ता
ज्योतिष मर्मज्ञ
वैदिक एवं लाल किताब
सोनी एस्ट्रो सर्विसेज
व्हाट्सऐप ~ ८८४०४००४१७
कर भला, होगा भला, आख़ीर भले का भला

एक सौ आठ कड़ियों में छठी कड़ी

बृहस्पत

बिधाता, जगत गुरु एवं ब्रह्मा जी महाराज
श्री ब्रह्मा जी महाराज दोनों जहां और त्रैलोकी का मालिक
मित्र ~ सूर्य, चंद्र एवं मंगल
शत्रु ~ शुक्र एवं बुध
सम ~ शनि, राहु एवं केतु
मशनुई ~ सूर्य एवं शुक्र
ख़ाना नम्बर ६
राशि फल, हर शै बिला मांगे हाज़िर, ग़रीबी और मंदी चक्कर से हरदम सांस रुकता हो, मुफ्तख़ोर मगर साधु सुभाओ
🥀वस्तुएं🥀
गरुड़, कस्तूरी, पीले सेब
🌾संक्षिप्त फल कथन🌾
१~ यह पाताल का घर है।
२~ कोई न कोई बीमारी सदैव बनी रहेगी।
३~ पिता, पुत्र एवं पुत्री को कष्ट।
४~ पिता अल्पायु हो।
५~ धन-दौलत प्राप्त होगी।
६~ जातक को कई वस्तुएं बिना मांगे या बिना काम किए ही मिल जाएंगी।
७~ मामा, ताया एवं चाचा के लिए भाग्यशाली।
८~ बुध एवं केतु अशुभ हो, तो जातक गरीब होगा।
९~ यदि बुध खाना नम्बर २ में हो, तो १६ से २१ वर्ष की अल्पायु में ही पिता का साथ छूट सकता है।
🌼संक्षिप्त उपाओ🌼
१~ केसर, हल्दी एवं सोना सदैव साथ रखे।
२~ भांजे एवं नातियों की पालना करे।
३~ पिता की सेवा करे।
४~ चने की दाल ६०० ग्राम, ६ दिन तक मन्दिर में दे।
५~ कुत्ता पाले।
६~ पीपल के वृक्ष में जल डाले।
७~ मुर्गी पालन करे।
८~ शाकाहारी बने।
९~ सोना धारण करे।
🙏🏻हमारी सेवाएं🙏🏻
१~ लाल किताब कुण्डली निर्माण।
२~ कुण्डली अनुसार संक्षिप्त फलकथन एवं उपाओ।
३~ लाल किताब व्याकरण त्रैमासिक व्हाट्सऐप कक्षाएं।
📖सम्पर्क सूत्र📖
सूर्यांक कुमार गुप्ता
ज्योतिष मर्मज्ञ
वैदिक एवं लाल किताब
सोनी एस्ट्रो सर्विसेज
व्हाट्सऐप ~ ८८४०४००४१७
💯कर भला, होगा भला, आख़ीर भले का भला💯